Voltmeter क्या है और ये कितने प्रकार का होता है?

यदि आप इलेक्ट्रॉनिक्स रिपेयरिंग और mobile repairing के कामों में रूचि रखते हैं तो आपको voltmeter के बारे में जरूर पता होना चाहिए। आपको पता होना चाहिए कि वोल्टमीटर क्या है, वोल्टमीटर का काम क्या है, वोल्टमीटर कितने प्रकार का होता है, और वोल्टमीटर का यूज कैसे करें। यदि आपको वोल्टमीटर के बारे में नहीं पता है तो हमारा ये पोस्ट जरूर पढ़ें। इस पोस्ट में आज हम वोल्टमीटर की पूरी जानकारी हिंदी में देने जा रहे हैं।

Voltmeter क्या है और इसका काम क्या है?

voltmeter definition in hindi: किसी भी electronics projects या electronics circuits में किसी ख़ास पॉइंट पर मौजूद वोल्ट की गणना करने के लिए वोल्ट मीटर का प्रयोग किया जाता है। हालांकि वोल्ट मापने की जरूरत इलेक्ट्रिक रिपेयरिंग और मोबाइल रिपेयरिंग दोनों कामों में पड़ती है लेकिन इसका इस्तेमाल कुछ इलेक्ट्रिक उपकरणों (जैसे स्टेबलाइजर) में भी किया जाता है।

वोल्टमीटर कितने प्रकार का होता है?

Types of voltmeter: इस्तेमाल के आधार पर वोल्ट मीटर 2 प्रकार का होता है...

1) Analog voltmeter working principal - एनालॉग वोल्टमीटर क्या है?

जिस वोल्ट मीटर में वोल्ट मापते समय उसे पढने के लिए सुई लगा होता है उसे एनालॉग वोल्टमीटर कहा जाता है। अधिकांश लोगों को 250v तक मापने की जरूरत होती है इसलिए वोल्ट मीटर में 0v से लेकर 300v तक का डायल बना होता है। जब वोल्ट मीटर से वोल्ट मापा जाता है तो मीटर की सुई, डायल पर उतने नंबर पर जाकर रूक जाता है जितना वोल्ट मापा जा रहा होता है।

अधिकतर इलेक्ट्रिक उपकरणों में 0-300v के कैपसिटी वाले वोल्ट मीटर का इस्तेमाल ही ज्यादातर किया जाता है इसलिए यदि आपको 300v से ज्यादा वोल्टेज मापना हो तो आपको मार्केट से आपके जरूरत के अनुसार ज्यादा वोल्ट के रेंज वाला वोल्ट मीटर खरीदना होगा।

Analog वोल्टमीटर का प्रतिरोध

एक बात का ध्यान रहे कि कोई भी वोल्ट मीटर जब काम कर रहा होता है तो वो कुछ बिजली की खपत भी करता है। साथ ही एक और बात का ध्यान रहे कि किसी भी voltmeter को काम करने के लिए कम-से-कम वोल्टेज की जरूरत होती है। यदि इसमें सीधे ही एसी सप्लाई दे दिया जाये तो मीटर पलभर में ही जल जायेगा। इसलिए एनालॉग वोल्ट मीटर के coil तक कम वोल्ट का करंट भेजने के लिए उसमें 10w का रेजिस्टेंस (प्रतिरोध) भी लगा हुआ होता है। एनालॉग वोल्टमीटर का प्रतिरोध 10KΩ अर्थात 10,000 ओह्म्स का होता है।


एनालॉग वोल्टमीटर से वोल्ट कैसे मापा जाता है?

एनालॉग वोल्ट मीटर से वोल्ट मापने के लिए मीटर के दोनों कनेक्शन तार को वोल्ट मापे जाने वाले पॉइंट पर समानांतर क्रम में लगाया जाता है। एनालॉग वोल्टमीटर कनेक्शन समझने के लिए आप नीचे के analog voltmeter circuit diagram इमेज का सहारा भी ले सकते हैं।
ऊपर के analog voltmeter diagram इमेज में आप देख सकते हैं कि एक 100w के बल्ब को 220v का ac supply दिया गया है। और जिस तरह से बल्ब को सप्लाई दिया गया है ठीक उसी तरह से voltmeter को भी एक तरह से सप्लाई ही दे दिया गया है। अब आपके बिजली में जितना वोल्टेज होगा मीटर की सुई डायल पर उतने नंबर पर जाकर रूक जायेगा। यहाँ वोल्टमीटर का कनेक्शन जिस तरह से किया गया है इसे ही parallel connection (समानांतर कनेक्शन) जाता है।

2) Digital Voltmeter working principal - डिजिटल वोल्टमीटर क्या है?

जिस वोल्ट मीटर में मापे गए वोल्ट की वैल्यू डिस्प्ले स्क्रीन पर दिखाई जाती है उसे डिजिटल वोल्टमीटर कहा जाता है। यदि एनालॉग वोल्ट मीटर पर रीडिंग को पढ़ने में आपको परेशानी महसूस होती हो तो आप डिजिटल वोल्ट मीटर खरीद सकते हैं। इस मीटर में आपके द्वारा मापा गया वोल्ट डिजिट (अंक) के रूप में प्रदर्शित होता है जिसे एक ही नजर में और आसानी से पढ़ा जा सकता है।

डिजिटल वोल्टमीटर से वोल्ट कैसे मापा जाता है?

डिजिटल वोल्ट मीटर और एनालॉग वोल्ट मीटर दोनों का एक ही काम है और दोनों का इस्तेमाल भी एक ही तरीके से किया जाता है। डिजिटल वोल्ट मीटर से वोल्ट मापने के लिए भी मीटर को सर्किट में समानांतर क्रम में ही लगाया जाता है। नीचे के digital voltmeter circuit diagram (सर्किट डायग्राम) इमेज में आप digital voltmeter working (कार्यप्रणाली) को समझ सकते हैं।

बनावट के आधार पर वोल्टमीटर कितने प्रकार का होता है?

Voltmeter design: ऊपर हमने जो डिजिटल और एनालॉग वोल्ट मीटर के बारे में बताया है वो वोल्टमीटर के टेक्नीकल बनावट के आधार पर बताया था। लेकिन बहुत सारे उपकरण अलग-अलग तरह के होते हैं और उनमें एक ही तरह का voltmeter नहीं लगाया जा सकता है। इसलिए बाहरी बनावट के आधार पर भी 2 तरह का वोल्ट मीटर होता है।

1) गोल वोल्टमीटर क्या है?

ऊपर हमने analog voltmeter के सर्किट डायग्राम में जिस वोल्ट मीटर को दर्शाया है उसका आकर गोल है इसलिए वो गोल वोल्ट मीटर है। जिस इलेक्ट्रिक उपकरण में वोल्ट मीटर को लगाने के लिए गोल जगह बनाया होता है उस उपकरण में गोल वोल्ट मीटर का इस्तेमाल किया जाता है। एनालॉग और डिजिटल दोनों ही वोल्टमीटर गोल आकार में आते हैं।

2) चौकोर वोल्टमीटर क्या है?

ऊपर हमने digital voltmeter के सर्किट डायग्राम में जिस वोल्ट मीटर को दर्शाया है उसका आकार चौकोर है इसलिए वो चौला वोल्ट मीटर है। जिस इलेक्ट्रिक उपकरण में वोल्ट मीटर को लगाने के लिए चौकोर जगह बनाया जाता है उस उपकरण में चौकोर वोल्टमीटर की वायरिंग की जाती है। एनालॉग और डिजिटल दोनों ही वोल्ट मीटर चौकोर आकार में भी आते हैं।

ये तो वोल्टमीटर की बेसिक जानकारी थी लेकिन इसके अलावे भी ये बहुत प्रकार के डिजाईन और आकार में आता है। लेकिन उस तरह के वोल्ट मीटर के इस्तेमाल आपको किसी ख़ास इलेक्ट्रिक उपकरण में ही देखने को मिलेंगे।


करंट के आधार पर वोल्टमीटर कितने प्रकार का होता है?

इलेक्ट्रिक करंट 2 प्रकार का होता है- DC current (डीसी करंट) और AC current (एसी करंट). दोनों ही करंट में आकाश-जमीन का अंतर का होता है और एक ही वोल्टमीटर से दोनों करेंट के वोल्ट को नहीं मापा जा सकता है। इसलिए करंट के आधार पर भी voltmeter 2 प्रकार का होता है।

1) AC voltmeter definition - एसी वोल्टमीटर क्या है?

एसी करंट के वोल्ट को मापने के लिए ac voltmeter का इस्तेमाल किया जाता है। आमतौर पर किसी भी इलेक्ट्रिक उपकरण में एसी वोल्ट मीटर का ही उपयोग किया जाता है। हमारे बिजली के करंट चूंकि ac current होते हैं इसलिए उस वोल्टेज को ac वोल्टमीटर से ही मापा जाता है। इसके साथ ही, किसी भी इलेक्ट्रिक उपकरण में एसी वोल्टेज को मापने के लिए एसी वोल्ट मीटर का ही इस्तेमाल किया जाता है। एसी वोल्ट मीटर भी निम्नलिखित 2 प्रकार का होता है।

  1. AC Analog Voltmeter (एसी एनालॉग वोल्टमीटर)
  2. AC Digital Voltmeter (एसी डिजिटल वोल्टमीटर)

2) DC voltmeter definition - डीसी वोल्टमीटर क्या है?

डीसी करंट के वोल्ट को मापने के लिए डीसी वोल्ट मीटर का इस्तेमाल किया जाता है। चूंकि हमारे घर के बिजली में ac करंट होता है इसलिए उसे dc voltmeter से नहीं मापा जा सकता है। डीसी वोल्टमीटर का इस्तेमाल सेल और बैटरी के वोल्ट को ज्ञात करने के लिए किया जाता है क्योंकि सेल और बैटरी दोनों में ही डीसी करंट मौजूद होते हैं।

इसके अलावे विभिन्न तरह के इलेक्ट्रिक उपकरण में डीसी वोल्ट को मापने के लिए भी डीसी वोल्ट मीटर का ही इस्तेमाल किया जाता है। चूंकि मोबाइल डीसी करंट पर काम करता है इसलिए मोबाइल रिपेयरिंग में भी dc voltmeter का ही इस्तेमाल किया जाता है। बैटरी में चूँकि (+) और (-) होता है इसलिए डीसी वोल्ट मीटर में भी (+) और (-) होता है। लेकिन एक बात का ध्यान रहे कि डीसी वोल्ट मीटर पर कभी भी एसी वोल्ट न मापें, इससे मीटर जलकर खराब भी हो सकता है। डीसी वोल्टमीटर भी निम्नलिखित 2 प्रकार के होते हैं।

  1. DC Analog Voltmeter (डीसी एनालॉग वोल्टमीटर)
  2. DC Digital Voltmeter (डीसी डिजिटल वोल्टमीटर)

Voltmeter price in India: वोल्टमीटर की कीमत कितनी होती है?

ऊपर हमने वोल्टमीटर से सम्बंधित सभी बेसिक जानकारी बता दिया है और अब हम आपको सभी तरह के वोल्ट मीटर की कीमत बताने जा रहे हैं। यहाँ हम जितने भी प्रकार के वोल्टमीटर की कीमत बताएँगे वो सामान्य तौर पर इस्तेमाल किये जाने वाले साधारण मीटर की कीमत होगी।

  1. Voltmeter Price - वोल्टमीटर की कीमत = 30 रूपये से शुरू
  2. Analog voltmeter price - एनालॉग वोल्टमीटर की कीमत = 30 रूपये से शुरू
  3. Digital voltmeter price - डिजिटल वोल्टमीटर की कीमत = 80 रूपये से शुरू
  4. AC voltmeter price - एसी वोल्टमीटर की कीमत = 30 रूपये से शुरू
  5. Analog ac voltmeter price - एनालॉग एसी वोल्टमीटर की कीमत = 30 रूपये से शुरू
  6. Digital ac voltmeter price - डिजिटल एसी वोल्टमीटर की कीमत = 80 रूपये से शुरू
  7. DC voltmeter price - डीसी वोल्टमीटर की कीमत = 100 RS से शुरू
  8. Analog dc voltmeter price - एनालॉग डीसी वोल्टमीटर की कीमत = 100 RS से शुरू
  9. Digital dc voltmeter price - डिजिटल डीसी वोल्टमीटर की कीमत = 100 RS से शुरू

नोट:- सभी तरह के वोल्टमीटर की कीमत, इन्टरनेट से ली गई जानकारी के आधार पर है। यदि आप वोल्ट मीटर खरीदना चाहते हैं तो एक बार अपने नजदीकी इलेक्ट्रिक दुकान में इसके बारे में पता कर सकते हैं। इसके अलावे वोल्ट मापने के लिए आप इलेक्ट्रिक मल्टीमीटर का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। मल्टीमीटर का इस्तेमाल करना बहुत ही सुविधाजनक है और इसकी कीमत भी ज्यादा नहीं होती है। हम पहले से ही मल्टीमीटर का उपयोग के बारे में पोस्ट लिख चुके हैं, आप हमारी वो पोस्ट भी पढ़ सकते हैं।


आपको हमारा ये पोस्ट कैसा लगा कमेन्ट करके हमें जरूर बताएं और इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और साथ ही हमारे वेबसाइट को सब्सक्राइब करना भी न भूलें।